Saturday, 4 October 2008

सब से अच्छी किताब

जब मैं छोटी थी तब मैं बहुत किताबें पढ़ती थी। आज-कल मुझे ज्यादाकिताबें पढ़ने का शौक नही है। फिर भी, मुझे अब भी सिधार्थ ''Siddartha'' सब से अच्छी किताब लगता है। मैं ज्यादा किताबें नही खरीद ती हूँ पर मेरे पास सिधार्थ की प्रति है। यह किताब एक पुरानी किताब है जो मेरे जन्म से भी पहले लिखी गई थी। सिधार्थ एक भारतीय लड़के की कहानी है। सिधार्थ की सबसे अच्छी चीज़ है उसका दिलसिधार्थ सब लोगों का सम्मान करता है। पूरी कहानी में सिधार्थ ज्ञान ढूंढने की कोशिश करता है। कहानी के अंत तक सिधार्थ को ज्ञान मिलती है। सिधार्थ बहुत लम्बी कहानी नही है पर फिर भी अच्छी है।

1 comment:

Madhav said...

Abbi mujhe bhi padna hoga!