Monday, 2 March 2009

दहेज प्रथा

हिंदुस्तान मे दहेज प्रथा पुराने ज़माने मे था। दहेज प्रथा है जब लड़की शादी करती है, तब उसको आदमी की परिवार को थोफा देना है। पेसे हो सकते है, या चीजे या लैंड. आज कल दहेज प्रथा इतना नही होता लकिन कहीं जगा होता है. दहेज प्रथा का मतलब है की आदमी लडकी की रक्शा करें. मेरा कयल है की दहेज प्रथा अभी भी होती है, लकिन लोगों आपने मूँ बंद रकते हैं. दहेज प्रथा भूत ख़राब स्य्स्तेम है, और नहीं होना चाहिये. लडकी को लड़का को क्यूँ पैसे दाने पडते है? दहेज प्रथा. पहले दहेज प्रथा सिरव आमिर लोग करते थे. पैसे लडकी के लिया थे, लडके के परिवार का लिये नहीं था. 1961 मे दहेज प्रथा इल्लीगल हो गया लकिन हर रोज़ लोग करते है. दहेज प्रथा लडकी की दिमाग़ी स्वास्थ्य के लिये आच्छा नहीं है.

1 comment:

manik said...

ABE PEHLE AAPNA NAAM LIKH K DEKH SAHI LIKHTA H YA GALAT SALE KUTTE LIKHNA H TO SAHI SE LIKH VARNA KOI JARURAT NAHI H.